भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की पूरी सूची एवं नोट्स - सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में
भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की पूरी सूची एवं नोट्स - सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

List of UNESCO World Heritage Sites in India

भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की पूरी सूची . UNESCO World Heritage Sites in India. Complete List of UNESCO World Heritage Sites in India in Hindi. GS Special Notes PDF. सभी प्रतियोगी परीक्षा जैसे UPSC, SSC, Railways, PCS, Banking और State Level परीक्षाओं के लिए सामान्य जागरूकता  सामान्य अध्ययन के लिए कई अलग-अलग विषयों पर ज्ञान की आवश्यकता होती है, ऐसा ही एक विषय UNESCO World Heritage Sites in India (भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की पूरी सूची ) है। हालाँकि भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों से संबंधित परीक्षाओं में पूछे जाने वाले प्रश्नों की संख्या अपेक्षाकृत कम होती है, लेकिन यह उचित है कि प्रत्येक इच्छुक को भारत में महत्वपूर्ण यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों के बारे में जानकारी होनी चाहिए।

यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों का महत्व (Importance of UNESCO World Heritage Sites)

भारत में 38 यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल (UNESCO World Heritage Sites in India) हैं जिन्हें संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) द्वारा 2018 के रूप में मान्यता प्राप्त है। भारत के ये यूनेस्को धरोहर स्थल सांस्कृतिक या प्राकृतिक विरासत के महत्व के स्थान हैं। भारत के पास अब यूनेस्को द्वारा सूचीबद्ध 38 विश्व धरोहर स्थल हैं और यह भारत को विश्व विरासत स्थलों की संख्या के मामले में विश्व के शीर्ष देशों में से एक बनाता है। यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों की पहचान उन स्थानों के रूप में करता है जो दुनिया के सभी लोगों से संबंधित हैं, चाहे वे जिस क्षेत्र में स्थित हों। इसका मतलब है कि भारत के इन विश्व धरोहर स्थलों को दुनिया में अत्यधिक सांस्कृतिक और प्राकृतिक महत्व माना जाता है।

  • भारत में जुलाई 2018 में मुंबई के विक्टोरियन गोथिक और आर्ट डेको एनसेम्बल के सम्मिलित होने के बाद कुल 38 (30 सांस्कृतिक, 7 प्राकृतिक एवं 1 मिश्रित) विश्व दर्शनीय स्थल हैं|
  • भारत से पहली बार दो स्थल आगरा किला एवं अजंता गुफाओं को 1983 में विश्व दर्शनीय स्थलों में शामिल किया गया|
  • 2016 में, निम्न तीन स्थलों को विश्व दर्शनीय स्थलों की सूची में शामिल किया गया-
    (i) नालंदा महावीर विश्वविद्यालय, बिहार
    (ii) कैपिटील बिल्डिंग काम्प्लेक्स–चंडीगढ़
    (iii) कंचनजंघा राष्ट्रीय पार्क, सिक्किम
  • जुलाई 2017 में, विश्व दर्शनीय स्थलों की सूची में भारत का प्रथम शहर अहमदाबाद है|
  • जुलाई 2018 में, मुंबई के विक्टोरियन और आर्ट डेको एनसेम्बल्स को भारत की 37 वीं विश्व धरोहर स्थलों के रूप में सूचीबद्ध किया।
  • ऐतिहासिक शहर बाकू, अज़रबैजान में 30 जून -10 जुलाई से यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति (डब्ल्यूएचसी) के 43 वें सत्र में, मान्यता प्राप्त करने के लिए अहमदाबाद के बाद जयपुर शहर को भारत की 37 वीं विश्व धरोहर स्थलों के रूप में सूचीबद्ध किया।
  • भारत में सिर्फ एक मिश्रित स्थल कंचनजंघा राष्ट्रीय पार्क, सिक्किम है|
  • वर्तमान में, देश की 42 साइटें विश्व धरोहर की अंतिम सूची में हैं।
  • संस्कृति मंत्रालय यूनेस्को को नामांकन के लिए हर साल एक संपत्ति की सिफारिश करता है।

भारत के इन 38 यूनेस्को विरासत स्थलों में से 30 सांस्कृतिक स्थल हैं, 7 प्राकृतिक स्थल हैं और 1 एक मिश्रित स्थल है। भारत में सांस्कृतिक स्थल दीप्ति से चिह्नित हैं। यहाँ सभी 38 साइटों की एक सूची दी गई है।

UNESCO World Heritage Sites in India

भारत में प्राकृतिक विश्व विरासत स्थल (Natural World Heritage Sites In India)

S. No. प्राकृतिक विश्व विरासत स्थल राज्य अधिसूचना का वर्ष क्षेत्र (Km2 में)
1 काजीरंगा राष्ट्रीय पार्क असम 1985 429.96
2 केवलादेव राष्ट्रीय पार्क राजस्थान 1985 28.73
3 मानस जंगली अभयारण्य असम 1985 391.00
4 सुंदरवन राष्ट्रीय पार्क पश्चिमी बंगाल 1984 1,330.10
5 नंदा देवी एवं फूलों की बाड़ी राष्ट्रीय उद्यान उत्तराखंड 1982

2005

630.00

87.50

6 पश्चिमी घात महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु और

केरल तमिलनाडु एवं महाराष्ट्र

2012 1,60,000.00
7 ग्रेट होमालय राष्ट्रीय पार्क सुरक्षित क्षेत्र हिमाचल प्रदेश 2014 905.4

भारत में सांस्कृतिक विश्व धरोहर स्थल (Cultural World Heritage Sites in India)

S. No. सांस्कृतिक विश्व धरोहर स्थल राज्य अधिसूचना का वर्ष
1 आगरा किला उत्तर-प्रदेश 1983
2 अजंता गुफाएं महाराष्ट्र 1983
3 एलोरा गुफाएं महाराष्ट्र 1983
4 ताजमहल उत्तर-प्रदेश 1983
5 महाबलीपुरम के स्मारकों का समूह तमिलनाडु 1984
6 कोणार्क, सूर्य मंदिर उडीसा 1984
7 गोवा के इसाईघर एवं मठ गोवा 1986
8 फतेहपुर सिकरी उत्तर प्रदेश 1986
9 हम्पी के स्मारकों का समूह कर्नाटक 1986
10 खजुराहो के स्मारकों का समूह मध्य-प्रदेश 1986
11 एलीफेंटा गुफाएं महाराष्ट्र 1987
12 ग्रेट लिविंग चोल मंदिर 12 तमिलनाडु 1987
13 पत्तदकल के स्मारकों का समूह कर्नाटक 1987
14 साँची के बौद्ध स्मारक मध्य-प्रदेश 1989
15 हुमायूं का मकबरा दिल्ली 1993
16 क़ुतुबमीनार एवं इसके स्मारक दिल्ली 1993
17 भारत के पर्वतीय रेलवे (दार्जीलिंग हिमालय रेलवे, नीलगिरी पर्वतीय रेलवे एवं कालका-शिमला रेलवे शामिल हैं) हिमाचल-प्रदेश, सिक्किम, तमिलनाडु 1999
18 बोध गया में महाबोधि मंदिर परिसर बिहार 2002
19 भीमबेटका के चट्टानी निवास मध्य-प्रदेश 2003
20 चम्पानेर-पावागढ़ पुरातात्विक पार्क गुजरात 2004
21 छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (पूर्व में विक्टोरिया टर्मिनस) मुंबई 2004
22 लाल किला परिसर दिल्ली 2007
23 जंतर-मंतर जयपुर, राजस्थान 2010
24 राजस्थान के पहाड़ी किले (चित्तोड़गढ़, कुम्भलगढ़, रंथाम्बोरे किला, गागरोन किला, आमेर किला, जैसलमेर किला – राजस्थान) 2013
25 पटन में रानी-के-वाव गुजरात 2014
26 नालंदा महाविहार का पुरातात्विक स्थल (नालंदा विश्वविद्यालय) बिहार 2016
27 कैपिटील बिल्डिंग काम्प्लेक्स- ले कॉर्ब्युएयर के वास्तुकला का काम चंडीगढ़ 2016
28 अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर गुजरात 2017
29 विक्टोरियन गोथिक और आर्ट डेको एनसेम्बल मुंबई 2018
30 जयपुर की चारदीवारी राजस्थान 2019

भारत में मिश्रित विश्व विरासत स्थल (Mixed Word Heritage Sites In India)

S. No. सांस्कृतिक विश्व धरोहर स्थल राज्य अधिसूचना का वर्ष
1 कंचनजंघा राष्ट्रीय पार्क सिक्किम 2016

UNESCO World Heritage Sites in India – विश्व धरोहर सूची में शामिल 38 स्थलों के अलावा, भारत ने मान्यता के लिए 43 अस्थायी स्थलों की एक सूची भी बनाए रखी है, जिसे मूल्यांकन और स्वीकृति के लिए यूनेस्को समिति को प्रस्तुत किया गया है।

यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य

  • ये स्थल वे स्थान हैं जिन्हें संयुक्त राष्ट्र(UN), संयुक्त राष्ट्रीय शिक्षण, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संस्था(UNESCO) द्वारा उनकी प्रकृति, संस्कृति, इतिहास एवं वैज्ञानिक महत्ता के आधार पर विशिष्ट संस्था द्वारा पहचाना जाता है|
  • UNESCO, UN की एक विशिष्ट संस्था है, जिसका उद्देश्य शिक्षा, विज्ञान एवं संस्कृति के नवीन रूपों द्वारा अंतर्राष्ट्रीय संगठन में शान्ति एवं सुरक्षा में योगदान करना है|इसका मुख्यालय पेरिस, फ्रांस में है|
  • विश्व दर्शनीय स्थलों की सूची को विश्व दर्शनीय कार्यक्रम जिसका प्रशासन UNESCO विश्व दर्शनीय संगठन करता है, द्वारा होता है|
    UNESCO विश्व धरोहर संगठन-
    यह 21 UNESCO सदस्य राज्यों द्वारा गठित है जिन्हें UN सामान्य संगठन द्वारा चुना जाता है|
  • UNESCO विश्व धरोहर अधिनियम, 1972 के अधीन विस्तारित यह सांस्कृतिक या प्राकृतिक दर्शनीय महता के क्षेत्र हैं|
  • इटली, विश्व धरोहर स्थलों की सूची में प्रथम स्थान पर हैं|
  • सभी देशों को उन स्थानों की अंतिम सूची बताना आवश्यक होता है जिन्हें वे सांस्कृतिक या प्राकृतिक स्थल मानते हैं और इसलिए उन्हें विश्व दर्शनीय स्थलों की सूची में शामिल किया गयाहै| थानों की सूचियां, जिन्हें वे बकाया सार्वभौमिक मूल्यों की सांस्कृतिक या प्राकृतिक विरासत मानते हैं
  • अस्थायी/अंतिम सूचियों को संपूर्ण नहीं माना जाता है और किसी भी नामांकन प्रस्तुत करने से एक वर्ष पहले इन्हें प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है।
  • देशों को अपनी अंतिम सूची कम से कम प्रत्येक दस वर्षों में पुन: परीक्षण करना चाहिए|
  • यदि किसी भी स्थल को विश्व दर्शनीय स्थल में शामिल किया जाए, तो इसे अस्थायी सूची में से असम्मिलित किया जाना चाहिए|

IBPS RRB Officer Scale I 2019 की तैयारी कैसे करें – महत्वपूर्ण टिप्स और ट्रिक्स जानिये आसान भाषा में

IBPS RRB Officer Scale I 2019 की तैयारी कैसे करें - महत्वपूर्ण टिप्स और ट्रिक्स जानिये आसान भाषा में

हम आशा करते हैं कि आपको यह पोस्ट पसंद आई है तो हमे सपोर्ट करने के लिए और बाकि लोगो की मदद के लिए इस पोस्ट को  फेसबुक, व्हाट्सप्प, टेलीग्राम एंड अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे।

आपकी परीक्षा के लिए शुभकामनाएं,

Team GS Special !!!


 

Print Friendly, PDF & Email